Zomato को IPO लाने के लिए मिली SEBI की मंजूरी, 8,250 करोड़ रुपये जुटाएगी कंपनी

Zomato को IPO लाने के लिए मिली SEBI की मंजूरी, 8,250 करोड़ रुपये जुटाएगी कंपनी
Zomato को IPO लाने के लिए मिली SEBI की मंजूरी, 8,250 करोड़ रुपये जुटाएगी कंपनी

Zomato को IPO लाने के लिए मिली SEBI की मंजूरी, 8,250 करोड़ रुपये जुटाएगी कंपनी – 2 जुलाई को ऑनलाइन फूड डिलीवरी सर्विस उपलब्ध कराने वाली कंपनी Zomato को IPO लाने के लिए SEBI से मंजूरी मिल चुकी है। Zomato 8250 करोड रुपए जुटाने के लिए IPO ला रही है। पिछले 2 सालों में ऑनलाइन फूड डिलीवरी सेगमेंट में काफी अच्छा ग्रोथ हो हुआ है। ऐसे में यदि Zomato कंपनी IPO के जरिए 8250 करोड रुपए कामयाब हो पाती है तो यह भारत में अपने कारोबार को बेहतर बना सकती है।

Zomato के फाउंडर एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी दीपेंद्र गोयल ने अपने कर्मचारियों को यह बताया था कि साल 2021 के मध्य तक कंपनी अपना IPO जारी करने का विचार बना रही है। इसीलिए उन्होंने अप्रैल माह में IPO के लिए SEBI के पास पेपर फाइल कर दिया था और इसे SEBI द्वारा ऑब्जरवेशन करके 2 जुलाई को मंजूरी मिल गई है। अब यह कंपनी IPO के माध्यम से फंड जुटाकर अपने कंपनी के कारोबार को आगे बढ़ा सकती है और भारत में ऑनलाइन फूड ऑर्डरिंग एवं डिलीवरी सर्विस को बेहतर बना सकती है।

अप्रैल में Zomato ने SEBI के पास IPO के लिए पेपर किया था सबमिट

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि Zomato ने अप्रैल के शुरुआत में SEBI के पास IPO के लिए पेपर सबमिट किया था जिसे 2 जुलाई को मंजूरी मिली है। किसी भी कंपनी के लिए IPO जैसे Public Issue, FPO और Rights Issue लॉन्च करने के लिए SEBI द्वारा ऑब्जर्वेशन किया जाना जरूरी है। इस IPO में 7,500 करोड़ रुपये के इक्विटी शेयर का Issue और Info Edge India Pvt. Ltd. द्वारा 750 करोड़ रुपये का Offer For Sell भी शामिल है।

Zomato द्वारा जारी किए गए ड्राफ्ट पेपर के अनुसार फ्रेश इश्यू से मिले पैसों को कंपनी की वृद्धि के फंडिंग के लिए एवं सामान्य कॉरपोरेट उद्देश्यों के लिए इस्तेमाल में लाया जाएगा। यदि पिछले कुछ सालों की बात करें तो ऑनलाइन फूड डिलीवरी सर्विस की मांग काफी अधिक बढ़ी है। ऑनलाइन फूड डिलीवरी सेगमेंट में Zomato और Swiggy का मार्केट शेयर सबसे अधिक है। दोनों में सबसे अधिक मार्केट से हासिल करने के लिए कड़ा मुकाबला देखा जाता है और वे अपने ग्राहकों के लिए तरह-तरह के ऑफर्स भी लांच करते रहते हैं।

2019-20 में Zomato की कमाई हुई दोगुनी

वित्तीय वर्ष 2018-19 के मुकाबले 2019-20 वित्तीय वर्ष में Zomato की कमाई दोगुनी से भी अधिक हुई है। ऑफिस कंपनी की रेवेन्यू 2960 करोड़ रुपए तक पहुंच गई है। इसके साथ ही साथ EBITDA Loss लगभग 2000 करोड रुपए है। Zomato ने Tiger Global और Quora सहित अलग-अलग प्लेटफॉर्म के जरिए लगभग 1800 करोड रुपए की बड़ी कमाई की है। इसी कमाई के साथ ऑनलाइन फूड ऑर्डरिंग प्लेटफॉर्म की वैल्यू 5.4 अरब डॉलर की हो चुकी है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि BofA Securities India Limited और Citigroup Global Markets India Private Limited की नियुक्ति Public Issue के Merchant Banks के तौर पर की गई है। इसके साथ ही साथ कंपनी के शेयरों की लिस्टिंग BSE और NSE पर की जाएगी।

Be the first to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.


*